pacl refund news | pacl baggiest scam | pacl updates |


🔥      PACL   घोटाला        🔥


 🙊🙉   PACL मॕनेजमेंट द्वारा किए हुए सबसे बडे घोटाले   🙈🙊


👉   1) 21 और 22 अगस्त 2014 का ब्रांच कलेक्शन ( 4000 करोड से ज्यादा )  🔥

👉  2) PACL मॕनेजमेंटद्वारा कंपनीके सिनियरोंको दीया हुआ 19,134 करोडका उधार 🔥🔥


 👩‍👩‍👧‍👦  साथींयों PACL मॕनेजमेंटद्वारा बहोत बडी साझीश की गयी है.
 21 और 22 अगस्त 2014 इन दो दिनोंमे कंपनीने देशभर के लगबग 386 ब्रांचोसे 4000 करोडसे ज्यादा कलेक्शन किए और 800 करोड❌ का कलेक्शन दिखाया और बाकी पैसा आतंकवादीयोंको 👹👺👺👹 सौंप दिए. 
 👉 और तो और इन लोगोंने 21 और 22 अगस्त 2014 का डेटा भी जला दिया , ताकी इन दो दिनोंका कलेक्शन लोगोंको पता ना चल सके.
👉  दुसरी बात PACL मॕनेजमेंटने कंपनीके 500 😿🙀  सिनियरोंको 😼😽‼ 19,134 करोड ‼रुपियोंका उधार (कर्जा ) 💶💷💴दिया था , इस का जिक्र 3 सप्टेंबर 2010 में कंपनीके C A ( Chartered Accountent ) अनिल कुमार सेठ अँड कंपनी जिनका FIRM REGD नंबर- 100445W  है . इन्होंने अपने Audit रिपोर्ट  ✍✍INCOMETAX  DEPARTMENT को सौंपते हुए कहा था .♨♨👈
👉  इस आॕडिड रिपोर्ट पर मॕनेजमेंट के सुब्रत भट्टाचार्य , गुरमितसिंग ,सुखदेवसिंग आदी 6 लोग और C/A अनिलकुमार सेठ के   हस्ताक्षर है   ✍✍
  
 👉👉  इन सब बातोंसे हम अनजान थे , लेकीन आज हमें MANAGEMENT  की सारी करतूतें 🔺 THE ZERO 🔺 चॕनलके माध्यम से समझमें आ रही है ,की मॕनेजमेंट निवेशकोंको पैसा लौटाना चाहता ही नहीं .🤥😩😫😩
 👉  इसलिए तो मॕनेजमेंट नें अपने बचाव के लिए संगठनोंका सहारा लिया और 4 साल लोगोंको गुमराह करते रहे .

👉  मै भी एक PACL पिडीत निवेशक हुँ .मेरे  🤔 मनमें भी कुछ सवाल उठ रहे है , 😲😲🤔🤭
👉 क्या संगठनवाले मेरा समाधान कर पाएँगे 🧙🏻‍♂🧙🏾‍♀🦹🏻‍♂👨🏼‍✈

👉👉  क्या मॕनेजमेंटद्वारा 500 सिनियरोंको ‼19,134 करोड ‼उधार दिए थे , इसकी जानकारी थी की नही,
  🔥 अगर नहीं थी तो जिन लोगोंको हम निवेशकोंका पैसा मॕनेजमेंट ने उधार दिया है .वोह पैसा वापस लाने के लिए क्या रुख अपनाएगी अथवा उनपर क्या कारवाई करेगी 🔥
🤝 क्या उनको साथ लेकर घुमेगी, या उनके बचाव के लिए उनसे चंदा इकट्ठा करेगी💴💴💴💴.👈
👉👉  आज तक इन 500 सिनियरोंने‼ 19,134 करोड ‼रुपियोंकी संपत्ती बनाकर साढे- आठ साल तक अपने पास रखकर ऐश करते रहे , क्या उन्हे दी गयी सारी रकम ब्याजसहीत लेंगे या सारी रकम छोड देंगे ,
👉 अगर आज  🔺19,134 🔺 करोड रुपिये बँक में होते , तो अबतक यह दुगने हो गया होते ,
👉 ‼19,134 करोड ‼तो 2010 तक कंपनीने कर्जा दिया था , पर 2014 पर सेबी ने बॕन लगा दिया था , फिर इन चार साल में और कितने  🔺"" हजार करोड "" 🔺कंपनीने कर्जा दिया इसका हिसाब ➕अभी शेष /बाकी है .👈
👉 जिन बेइमान गद्दारोने हमारे पैसोसे कंपनी से कर्जा लिया था , उनपर कारवाई की माँग 📢📣क्यो नहीं कर रहे है, उन्हे छोडकर झिंदाबाद - मुर्दाबाद कर रहे है 📣📣📢📢

 ⚖⚖⚖⚖⚖⚖⚖⚖⚖

👉♨  क्या लोढा कमिटी 👨🏼‍✈👨🏼‍✈🦹🏻‍♂हमें 😫😩 इन्साफ 🔨🔨⚖⚖ दिला पाएगी ♨👈


👉👉 1) ♨ PACL निवेशकोंको भुगतान मिल सके इसलिए लोढा कमिटी द्वारा कंपनी के  PRAPOSAL  मँगवाए गए थे 📂📋📂

फिर भी उसमेंसे सबसे बेहतरीन 👍यदुवंशी कंपनी ने PRAPOSAL दिया था , जिसमे 🔺एक साल🔺 मे सारे निवेशकोंको भुगतान देने का वादा किया था ,उसे भी स्वीकार नहीं किया गया.क्यो  ??????
👉👉 अगर यदुवंशी कंपनीका Praposal अगस्त 2018 मे स्वीकार किया होता , तो अबतक 50% -- 60% निवेशकोंको का भुगतान हो गया होता .
👉♨ फिर लोढा कमिटी 🤪😜 को 5 करोड 15 लाख  मजबूर , लाचार निवेशकोंको दर्द , पिडा क्यों समझमें नहीं आ रही है 😓😥😡😩😤
👉👉 क्या अपने पिछले कार्यकाल में लोढा जी ने ऐसाही न्यायदान किया होगा क्या ????  ⚖⚖⚖⚖
👉जो PACL के निवेशकोंके साथ 3 साल से टाईमपास करते आ रहे है👈
☝☝ऐसाही  हमें संदेह हो रहा है ☝☝


👉🤝🤝 लोढा कमिटी 👨🏼‍✈👩‍🌾👩‍🎤और मॕनेजमेंट में  क्या  👥👥🧙🏻‍♂🧙🏾‍♀  की मिलीभगत  है  ????👈👈🤝🤝

  🤝🤝 जी , हाँ ! इसीकारण तो PACL की संपत्ती बेचने हेतु आए हुए सारे Praposal बंद गुलदस्तेमें ही रह गए 🎍🎍🤪🤣😂🤪🥵🤗
👉👉 अगर PACL कंपनीका Praposal छोडकर अन्य कंपनीका Praposal पास हुआ तो , वोह कंपनी PACL का 2010 का आॕडिट रिपोर्ट FOLLOW करती , जो कंपनीने 500 सिनियरोंको 😩😫19,134 करोड रुपीया 😎🤓कर्जा /उधार दिया था , और वोह पैसा 2010 से आज तक ब्याजसहीत वसुल करती, और वही पैसा आज लगभग ‼💴50,000💴‼करोड से ज्यादा हुआ होगा 👈👈👈
और लोढा कमिटी मॕनेजमेंट 👨🏼‍✈🦹🏻‍♂😎के साथ मिलकर यह नहीं चाहती होगी , की जिन लोगों👨‍👨‍👧‍👧👨‍👨‍👧👨‍👩‍👧‍👧के टीम ने कंपनी  🏭 को अच्छा बिझनेस💴💴 दिया उनसे पैसा वापस लिया जाए ???? 👈 
इसीलिए तो एक भी PRAPOSAL पर सुप्रीम कोर्ट में बहस 😲😲 नहीं हुई.‼
ऐसा क्यों ❓❓❓
 👉👉‼ क्या लोढा कमिटी PACL निवेशकोंको पैसा देने में इच्छुक नही है ❓❓
 👉❗ आज 3 साल हो गए पर , लोढा कमिटी PACL की कोई संपत्ती बेच नही पायी , उल्टा मॕनेजमेंट द्वारा ही लोढा कमिटी के पास जप्त की हुई 🔺NOT FOR SALE🔺 की संपत्ती बेची जा रही है ,⁉👈
🔥क्या जिम्मेदारी ऐसी लापरवाही से संभाली जाती है . ♨‼
♨ और तो और इसपर कोई संज्ञान /आपत्ती नहीं ली गयी 👈♨
 🔥♨      ऐसा क्यों ????   👈
👉  क्या लोढा कमिटी अपना दायित्व सहीं ढंग से कर पा रही है , या नही .👈⚖⚖⚖⚖⚖
😲😲 अगर सही ढंग से कर रही है , तो पिछले तीन सालोंमें CBI ने लोढा कमिटी को दी हुई 29,088 संपत्ती के अतिरिक्त और PACL की मॕनेजमेंट 👨‍🎓🕵‍♀या उनके सिनियरोंद्वारा छुपायी गयी 🦹🏻‍♀🦹🏻‍‼ पौणे तीन लाख ‼संपत्ती तलाशनेमें रुची क्यों नही दिखायी ???❌❌
☝☝ लोढा कमिटी चाहती तो 10 दिनमें PACL की सारी 🏤🏛🏣 संपत्तीका पता लगा सकती ☝☝
👉‼ पर उन्होने यह जरुरी नहीं समझा ‼👈👈👈
👉 पर जरुरी क्यों नहीं समझा? ❓
👉👉♨  अगर  THE ZERO परिवार की तरफसे भेजी हुई 34 पेज की अप्लिकेशन में बताए हुए बिंदु यानी PACL के देशभर के🏫 सारे बँक अकाउंट की तहकीकात करते , और PACL अकाउंट की तय तक जाते ,पता करते की अकाउंट में से पैसा कहाँ कहाँ गया है, कितनी संपत्ती 🏭🌆🌅🏣  खरीदी है , तो लोढा कमिटी को सारी जानकारी जल्द मिल जाती , 👈👈👈
👉👉  फिर लोढा कमिटी ने PACL के बँक अकाउंट 💰💰की तहकीकात नहीं करवानेकी सबसे बडी भूल क्यों की ??👈‼❓❓
👉 उन्हे किसने रोका था ???❓
👉 ♨ क्या लोढा कमिटी PACL के सारे बँक अकाउंट की तहकीकात नही कर सकते थे ???👈👈♨
👉👉 क्या लोढा कमिटी को PACL के बँक अकाउंट की छान बिन करनेका अधिकार नहीं दिया था क्या ♨
🔺‼अगर सुप्रीम कोर्ट ने PACL मॕनेजमेंट को 👩‍🎤लोढा कमिटी 👨‍⚖की निगरानी में सारी संपत्ती बेचकर  निवेशकोंको भुगतान देने को कहती तो शायद , अबतक सबका भुगतान हो गया होता ❓🔺‼
🔺‼😩 😣 और आजतक जितने भी एजंटोकी बली चढ गयी थी, वो नही हुई होती .😫😩🔺🔺

👉‼ PACL के सभी निवेशकोंसे 🙏निवेदन है की , वोह अपने पास रखी हुई 21 और 22 अगस्त 2014 की रसिदों की लिस्ट बनाकर www.thezero.com (website) , Sachindianews@gmail.com (E-mail adderss)
इस बेबसाइटपर भेज दे , अथवा हमारे सोल्जर साथी है उन्हे  Whatsapp करे ,ताकी आगे की कारवाई हो सके 🔺🔺
       जय हिंद , जय भारत

Post a Comment

1 Comments

  1. नमस्ते सर जी,ब्याज सहित रूपये मीलना चाहिए

    ReplyDelete